Connect with us

किसान योजना

PM Kisan Yojana: खुशखबरी! 16वीं किस्त आपके खाते में? आसान तरीकों से करें पता!

प्रधानमंत्री मोदी ने पीएम किसान सम्मान निधि योजना की 16वीं किस्त जारी की, जिससे 9 करोड़ किसानों को 21,000 करोड़ रुपये मिले। किसान अपने पैसे की जानकारी आधिकारिक पोर्टल, मोबाइल ऐप, SMS, बैंक स्टेटमेंट और हेल्पलाइन से प्राप्त कर सकते हैं। योजना के तहत किसानों को सालाना 6000 रुपये मिलते हैं।

Published

on

Mandhan Yojana

किसान भाइयों के लिए खुशखबरी! प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 28 फरवरी 2024 को PM Kisan Samman Nidhi Yojana की बहुप्रतीक्षित 16वीं किस्त जारी कर दी है। इसका मतलब यह है कि देश के 9 करोड़ से अधिक मेहनती किसानों के बैंक खातों में कुल मिलाकर 21,000 करोड़ रुपये से अधिक की राशि जमा की गई है। यह राशि निश्चित रूप से ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूती प्रदान करेगी और किसानों को आर्थिक रूप से सशक्त बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी।

लेकिन सबसे बड़ा सवाल यह है कि क्या आपके खाते में भी यह राशि जमा हो गई है? इस सवाल का जवाब पाने के लिए नीचे दिए गए आसान तरीकों को अपनाकर आप कुछ ही मिनटों में पता लगा सकते हैं:

1. ऑनलाइन चेक करें, मिनटों में पता चले:

  • सीधे PM Kisan Yojana के आधिकारिक पोर्टल https://pmkisan.gov.in/ पर जाएं।
  • “Farmers Corner” सेक्शन में “Beneficiary Status” विकल्प ढूंढें और उस पर क्लिक करें।
  • अपना आधार नंबर, मोबाइल नंबर या बैंक खाता संख्या दर्ज करें और “Get Data” बटन पर क्लिक करें।
  • कुछ ही सेकंड में आपके सामने स्क्रीन पर आपके खाते में जमा राशि की जानकारी आ जाएगी।

2. मोबाइल ऐप से भी आसानी से पता लगाएं:

  • अपने स्मार्टफोन पर PM Kisan मोबाइल ऐप डाउनलोड और इंस्टॉल करें।
  • ऐप में अपना पंजीकृत मोबाइल नंबर दर्ज करें और “Get OTP” पर क्लिक करें।
  • प्राप्त OTP दर्ज करें और “Login” बटन पर क्लिक करें।
  • इसके बाद, “Beneficiary Status” विकल्प चुनें।
  • आपके खाते में जमा राशि की जानकारी तुरंत स्क्रीन पर प्रदर्शित हो जाएगी।

3. बस एक SMS और जानकारी आपके हाथ में!

  • अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर से 155261 पर एक SMS भेजें।
  • SMS में केवल “STATUS” लिखें और भेज दें।
  • कुछ देर में, आपको आपके खाते में जमा राशि की जानकारी वाला एक SMS प्राप्त हो जाएगा।

4. बैंक पासबुक या स्टेटमेंट से भी करें पता:

  • आप अपने बैंक पासबुक या बैंक स्टेटमेंट की भी जांच कर सकते हैं। इससे भी आपको यह पता चल जाएगा कि आपके खाते में PM Kisan Yojana की 16वीं किस्त जमा हुई है या नहीं।

5. किसी भी सहायता के लिए हेल्पलाइन करें:

  • यदि आपको PM Kisan Yojana की 16वीं किस्त के संबंध में किसी भी तरह की सहायता की आवश्यकता है, तो आप बेझिझक PM Kisan हेल्पलाइन नंबर 155261 या 1800115526 (Toll Free) पर संपर्क कर सकते हैं।

ध्यान दें:

  • यदि आपके खाते में अभी तक पैसा नहीं आया है, तो आप PM Kisan पोर्टल पर जाकर “Grievance Redressal” के माध्यम से शिकायत दर्ज कर सकते हैं।
  • PM Kisan Yojana के तहत, हर साल पात्र किसानों को 6000 रुपये की आर्थिक सहायता तीन समान किस्तों में दी जाती है।

यह भी याद रखें:

  • PM Kisan Yojana के लिए सभी किसान स्वचालित रूप से लाभार्थी नहीं होते हैं। योजना के लिए पात्र होने के लिए, कुछ निर्धारित योग्यता मानदंडों को पूरा करना आवश्यक है।
  • यदि आपने अभी तक PM Kisan Yojana के लिए पंजीकरण नहीं करवाया है, तो आप PM Kisan पोर्टल या PM Kisan मोबाइल ऐप के माध्यम से आसानी से पंजीकरण कर सकते हैं।

तो देर किस बात की? ऊपर बताए गए तरीकों में से किसी एक का उपयोग करके जल्दी से चेक करें कि क्या आपके खाते में भी PM Kisan Yojana की 16वीं किस्त जमा हुई है!

इस राशि को अपने खर्चों को पूरा करने और कृषि कार्यों को सुचारू रूप से चलाने में उपयोग

किसान योजना

PM Kisan Yojana: 15वीं किस्त ऐसे किसान होंगे इस योजना से बाहर

Published

on

By

PM kisan yojana

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (PM Kisan Yojana): केंद्र सरकार और राज्य सरकार अपने-अपने स्तर पर विभिन्न प्रकार की योजनायें चला रहे हैं। इसी प्रयास में केंद्र सरकार की प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना है। यह योजना 1 फरवरी 2019 से आरंभ की गई है। इस योजना के द्वारा साल में दो-दो हजार रुपये तीन किश्तों में यानि कुल 6000 रुपये सालाना पात्र किसानों को दिया जाता है। केंद्र सरकार द्वारा जुलाई महीने के अंत में 14 वीं किश्त जारी की थी। इसकी 15 वीं किश्त अक्टूबर महीने के अंत में आने की संभावना है। 

[elementor-template id=”478″]

पीएम किसान योजना 15 वीं किश्त पाने के लिए करना होगा यह काम

यदि आप इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं तो आपको ई-केवाईसी करवाना आवश्यक है। ई केवाईसी करवाने से आपकी सारी जानकारी सरकार तक पहुंच जाएगी। सरकार ने योजना का लाभ उठाने वाले किसानों के लिए ई-केवाईसी करवाना अनिवार्य कर दिया है। इसके अतिरिक्त आपको अपनी जमीन का सत्यापन भी करवाना होगा। इस योजना का लाभ उन्हीं किसानों को मिलेगा जिनके पास दो हेक्टेअर से कम जमीन होगी। जमीन का सत्यापन करवाने के लिए आपको पीएम किसान के आधिकारिक पोर्टल पर जमीन का दस्तावेज़ अपलोड करना होगा। आपके दस्तावेज़ के अपलोड होने के पश्चात कृषि विभाग के अधिकारी जमीन का सत्यापन करने समक्ष रूप से आएंगे। 

PM Kisan Yojana 15 वीं किस्त में इन किसानों को रखा गया है बाहर 

प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना का कुछ लोग गलत तरीके से लाभ उठा रहे थे। अतः केवल पात्र किसानों को इसका लाभ देने के लिए, अब सरकार द्वारा कुछ प्रक्रियाओं का प्रयोग किया जा रहा है। कुछ किसान इस योजना का लाभ झूठे दस्तावेज़ों के जरिए उठा रहे थे। इस कारण अब उनका नाम पीएम किसान योजना के लाभार्थी लिस्ट से हटा दिया गया है। इस योजना का लाभ एक परिवार के केवल एक ही व्यक्ति को मिलेगा। 

उच्च आर्थिक स्थिति वाले लाभार्थियों की निम्नलिखित श्रेणियाँ इस योजना के लिए पात्र नहीं हैं-

  1. सभी संस्थागत भूमि धारक
  2. वे किसान परिवार जो नीम्न में से किसी एक या एक से अधिक से संबंध रखते हैं-
    1. पूर्व या वर्तमान संवैधानिक पदधारक
    2. पूर्व या वर्तमान मंत्री/ राज्य मंत्री, लोकसभा/ राज्यसभा/ विधान सभा/ विधान परिषद के पूर्व या वर्तमान सदस्य, नगर निगम/ नगर पालिका/ ज़िला पंचायत के पूर्व या वर्तमान अध्ययक्ष
    3. केंद्र/राज्य सरकार के मंत्रालयों/कार्यालयों/विभागों और इसकी क्षेत्रीय इकाइयों केंद्रीय या राज्य पीएसई और सरकार के अधीन संबद्ध कार्यालयों/स्वायत्त संस्थानों के सभी सेवारत या सेवानिवृत्त अधिकारी और कर्मचारी और साथ ही स्थानीय निकायों के नियमित कर्मचारी (मल्टी टासकिन्ग स्टाफ/ क्लास IV/ ग्रूप-डी को छोड़कर)
    4. सभी सेवानिवृत्त/सेवानिवृत्त पेंशनभोगी जिनकी मासिक पेंशन रु. 10,000/- या इससे अधिक है। (मल्टी टासकिन्ग स्टाफ/ क्लास IV/ ग्रूप-डी को छोड़कर)
    5. वे सभी व्यक्ति जिन्होंने पिछले वर्ष आयकर का भुगतान किया था। 
    6. डॉक्टर, इंजीनियर, वकील, चार्टर्ड अकाउंटेंट और आर्किटेक्ट जैसे पेशेवर जो व्यावसायिक निकायों के साथ पंजीकृत हैं और प्रैक्टिस करके अपना पेशा चला रहे हैं।

इस वजह से भी PM kisan yojana 15 vi kist अटक सकती है 

  • ऐसे किसान जो इस योजना से गलत तरीके से जुड़े हुए हैं या गलत दस्तावेजों के प्रयोग से इस योजना का लाभ उठा रहे हैं ऐसे किसानों की जांच चल रही है और इनका आवेदन रद्द  हो रहा है। 
  • जिन किसानों के बैंक खाते की जानकारी गलत है उन किसानों की भी 15 वीं किश्त अटक सकती है। 
  • किसान योजना का आवेदन करते समय एक फार्म भरना होता है, यदि इस फार्म में नाम, लिंग, पता, आधार नंबर या कोई अन्य गलती होने से भी आपकी किश्त अटक सकती है। 
  • जिन किसानों ने भू सत्यापन नहीं कराया हो या ई-केवाईसी नहीं कराई हो तो नियमों के अनुसार इनकी भी किश्त अटक सकती है। 

अतः आप जल्दी से अपनी भूल सुधार लें, ताकि आपकी किश्त आपको आसानी से मिल सके। 

अब ई-केवाईसी कैसे करें 

आप ई-केवाईसी पीएम किसान पोर्टल के माध्यम से कर सकते हैं या फिर आप निकटतम सीएससी केंद्रों पर भी ई-केवाईसी कर सकते हैं। 

आप नीचे दिए गए निर्देशों का पालन करके आनलाइन स्वयं  ई-केवाईसी कर सकते हैं-

  1. सबसे पहले आपको पीएम किसान के पोर्टल https://pmkisan.gov.in/ पर जाना होगा। 
  2. आपको मुख्य पृष्ट पर फार्मर्स कॉर्नर में e-KYC पर क्लिक करना होगा।
  3. अब अपना आधार नंबर डाल कर सर्च पर क्लिक करना है। 
  4. अब अपना मोबाईल नंबर दर्ज करके OTP प्राप्त होने के बाद OTP भरना है।
  5. अगर आपकी सारी जानकारी पूरी तरह से वैलिड होगी तो आपकी ई-केवाईसी की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

इसके अतिरिक्त किसान योजना से जुड़ा आपका कोई प्रश्न हो तो आप नीचे दिए गए कमेन्ट बॉक्स में पूछ सकते हैं।

Continue Reading

केंद्र सरकार की योजना

पीएम किसान योजना : ऐसे किसानों को नहीं मिलेगी अगली किस्त

Published

on

By

पीएम किसान योजना

पीएम किसान योजना (PM Kisan Yojana) किसानों को वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए भारत सरकार द्वारा शुरू की गई एक योजना है। पात्र किसान हर चार महीने में 2,000 रुपये की किस्त प्राप्त करने के हकदार हैं, जो सालाना कुल 6,000 रुपये हो जाती है। 12वीं किस्त पहले ही वितरित की जा चुकी है, और 13वीं किस्त जल्द ही जारी होने वाली है। कोई भी किसान जिसने अभी तक इस योजना का लाभ नहीं लिया है, वह पीएम किसान योजना की वेबसाइट पर इसके लिए पंजीकरण करा सकता है।

इन किसानों नहीं मिलेगी अगली किस्त

इस योजना के लिए सभी किसान पात्र नहीं हैं। ध्यान दें की बिहार कृषि विभाग की वेबसाइट के अनुसार, जिन किसानों का बैंक खाता उनके आधार और एनपीसीआई (DBTके लिए सक्षम नहीं) से जुड़ा नहीं है, उन्हें इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा।

ऐसे लिंक होगा

सभी किसान बंधुओं को अपने आधार को PM Kisan Yojana पोर्टल और मोबाईल नंबर को लिंक करना होगा। यह लिंक आपको अपने नजदीकी केंद्र पर पहुँच कर bayometric ( फिंगर प्रिन्ट ) के साथ अपने E-kyc को अपडेट करना पड़ेगा

अगली किस्त कैसे प्राप्त करें

अगली किस्त प्राप्त करने के लिए, किसानों को अपने निकटतम डाकघर में इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक (आईपीपीबी) में एक डेबिट-सक्षम बैंक खाता खोलना होगा। इस योजना का लाभ लेने के लिए लाभार्थियों को अपना ई-केवाईसी पूरा करना भी अनिवार्य है।

पीएम किसान योजना sbi बैंक में kyc कैसे करें

यदि किसी किसान भी का खाता एसबीआई बैंक में है तो जो भी मोबाईल नंबर आपके खाता से लिंक हो उस नंबर से 567676 पर मैसेज करके भी आसानी से अपडेट कर सकते हैं।

निष्कर्ष

पीएम किसान योजना भारत में किसानों की मदद करने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है। इसका उद्देश्य छोटे और सीमांत किसानों को वित्तीय सहायता प्रदान करना है, जो अक्सर मौद्रिक मुद्दों से जूझते हैं। इस योजना का लाभ उठाकर किसान अपनी आर्थिक स्थिति में सुधार कर अपना और अपने परिवार का उज्जवल भविष्य सुनिश्चित कर सकते हैं।

Continue Reading

Trending

Copyright © 2024 सरकारीयोजना.com.